बालिकाओं द्वारा कार्यक्रमों के माध्यम से "कन्या भ्रूण हत्या एक अपराध है" का दिया  सन्देश

बालिकाओं द्वारा कार्यक्रमों के माध्यम से "कन्या भ्रूण हत्या एक अपराध है" का दिया  सन्देश


गाजियाबाद। महिला कल्याण विभाग, गाजियाबाद द्वारा जिला प्रोबेशन अधिकारी विकास चंद्र के निर्देशन में बेटी बचाओं, बेटी पढ़ाओं योजना के अन्तर्गत आज दिनांक 14 जनवरी 2020 को विद्यावती मुकुन्द लाल महिला महाविद्यालय में "बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ" विषय पर समूह गायन, कविताएं, एकल नृत्य, समूह नृत्य, एकल गायन, पोस्टर प्रदर्शनी, लघु नाटिका, वाद - विवाद इत्यादि कार्यक्रम कराये गये।



कार्यक्रम का शुभारम्भ महाविद्यालय की प्राचार्या डाॅ० इन्द्राणी के द्वारा दीप प्रज्वलन से किया गया। बालिकाओं द्वारा प्रस्तुत किये गये कार्यक्रमों के माध्यम से कन्या भ्रूण हत्या, एक अपराध है का सन्देश दिया गया व लडकियो को समाज में आर्थिक व सामाजिक बोझ के रूप में माना जाने की धारणा को 'बेटी हिन्दुस्तान की' व 'नैयना जो सांझ थाम लेते थे' गाने के माध्यम से प्रस्तुत किया गया। महाविद्यालय की प्राचार्या डाॅ० इन्द्राणी ने कार्यक्रम में भाग लेने वाली छात्राओं के परिश्रम तथा उनकी सुन्दर प्रस्तुतियों की सराहना की तथा छात्राओं को राष्ट्र सेवा के प्रति अपेक्षित समर्पण का संदेश दिया गया।


कार्यक्रम में महिला शक्ति केन्द्र गाजियाबाद की प्रभारी महिला कल्याण अधिकारी नेहा वालिया के द्वारा जनपद में महिला कल्याण विभाग द्वारा संचालित "बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना" कन्या सुमंगला योजना, विधवा पेंशन योजना, उ0प्र0 रानी लक्षमीबाई महिला एवं बाल सम्मान कोष योजना, 181 महिला हेल्प लाइन की जानकारी दी गई। कार्यक्रम में डाॅ० रेश्मा माहेश्वरी एवं ऊषा देवी वर्मा उपस्थित रहीं।


Comments