मंडलायुक्त मेरठ मंडल अनीता सी मेश्राम का जनपद में शीतकालीन भ्रमण

कलेक्ट्रेट एवं राजस्व कार्यो का किया गया निरीक्षण, शासन की मंशा के अनुरूप गतिशीलता लाने के लिए संबंधित अधिकारियों को दिए गए आवश्यक दिशा निर्देश


गाज़ियाबाद। मेरठ मंडल की कमिश्नर अनीता सी मेश्राम के द्वारा अपने शीतकालीन भ्रमण के दौरान कलेक्ट्रेट का गहनता के साथ निरीक्षण किया गया। उन्होंने अपने भ्रमण के दौरान आईजीआरएस कक्ष, पूर्ति कार्यालय, आबकारी कार्यालय, सहायक भूलेख कार्यालय, वरिष्ठ अभियोजन कार्यालय, आंग्ल अभिलेख कार्यालय, संयुक्त कार्यालय, रिकॉर्ड रूम एवं जिला निर्वाचन कार्यालय का स्थल निरीक्षण करते हुए संबंधित अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि कार्यालय में सभी रिकॉर्ड मानकों एवं साफ सफाई के साथ रखे जाएं और शासन की मंशा के अनुरूप आम जनों को विभिन्न कार्यक्रमों में समय पर डिलीवरी उपलब्ध कराने की कार्रवाई सभी अधिकारियों के द्वारा सुनिश्चित की जाए।



आईआरएस कंप्यूटर कक्ष में उन्होंने डिफाल्टर की श्रेणी में अधिक प्रकरण पाए जाने पर संबंधित अधिकारियों को तत्काल निस्तारण करने के निर्देश दिए हैं। आपूर्ति कार्यालय में मंडल आयुक्त के द्वारा राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम योजना के संबंध में गहनता के साथ जांच पड़ताल की गई और जिला पूर्ति अधिकारी को सरकार की मंशा के अनुरूप सभी पात्र लाभार्थियों तक राशन पहुंचाने के निर्देश दिए गए। संयुक्त कार्यालय में स्थल निरीक्षण करते हुए आर ए के पटल पर उन्होंने कार्य में तेजी लाने के लिए संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया है।



स्थल निरीक्षण के उपरांत मंडल आयुक्त अनीता सी मेश्राम के द्वारा जिलाधिकारी अपर जिलाधिकारी एवं राजस्व विभाग के अधिकारियों के साथ राजस्व कार्यों की गहनता के साथ बुकलेट पर निरीक्षण करते हुए अधिकारियों को स्पष्ट किया है कि राजस्व विभाग के अधिकारी गण राजस्व वसूली का कार्य सर्वोच्च प्राथमिकता के आधार पर सुनिश्चित करें ताकि अधिक से अधिक राजस्व सरकार को प्राप्त हो सके। उन्होंने कहा कि बड़े बकायेदारों के विरुद्ध नियमित रूप से अभियान संचालित करते हुए वसूली की कार्रवाई सुनिश्चित की जाए ताकि जनपद में अधिक से अधिक राजस्व वसूल संभव हो सके। राजस्व वसूली की दृष्टि से जनपद गाजियाबाद अत्यंत महत्वपूर्ण जनपद है। अतः राजस्व अधिकारियों के द्वारा इस कार्य पर विशेष फोकस करने की आवश्यकता है।



इसी प्रकार उन्होंने निरीक्षण करते हुए राजस्व वादो का निस्तारण भी समयवद्धता के अंतर्गत करने के लिए निर्देशित किया। समीक्षा के दौरान मंडल आयुक्त के द्वारा पाया गया कि लंबित संदर्भ में विभिन्न स्तर पर स्थिति संतोषजनक नहीं है। अतः संबंधित अधिकारियों के द्वारा इस दिशा में विशेष प्रयास करते हुए सभी लंबित प्रकरणों का निस्तारण तत्काल प्रभाव से करने की कार्यवाही सुनिश्चित की जाए। उन्होंने निरीक्षण में अधिकारियों एवं कर्मचारियों की सेवा पुस्तिका तथा अन्य अभिलेखों का भी गहनता के साथ निरीक्षण किया समीक्षा के दौरान किसी कर्मचारी का प्रकरण लंबित नहीं पाया गया। इसी प्रकार किसी कर्मचारी अधिकारी का पेंशन प्रकरण भी निरीक्षण में लंबित नहीं मिला। इस संबंध में उन्होंने अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि कर्मचारियों के प्रमोशन निरंतर रूप से समय बद्धता के साथ किए जाएं। ऑडिट आपत्तियों के संबंध में उन्होंने समीक्षा करते हुए कहा कि लंबित ऑडिट आपत्तियों का निस्तारण करने के उद्देश्य से अभियान चलाकर सभी ऑडिट आपत्तियों का निस्तारण करने की कार्यवाही संबंधित अधिकारियों के द्वारा सुनिश्चित की जाए।


अंत में मंडलायुक्त ने समस्त राजस्व अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि राजस्व विभाग के द्वारा विभिन्न पटलों पर जनसामान्य को समय पर डिलीवरी उपलब्ध कराने की कार्रवाई सुनिश्चित की जाए ताकि शासन की मंशा के अनुरूप प्रत्येक राजस्व कार्यक्रम का लाभ जनता को प्राप्त हो सके। मंडलायुक्त के निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी अजय शंकर पांडेय ने उन्हें आश्वस्त किया कि राजस्व कार्यो में गतिशीलता लाने के संबंध में जो उनके द्वारा आज निर्देश दिए गए हैं संबंधित अधिकारियों के माध्यम से उनका अक्षर से पालन सुनिश्चित कराते हुए सभी राजस्व कार्य में और अधिक गतिशीलता लाई जाएगी। इस अवसर पर अपर  जिलाधिकारी प्रशासन जेके शर्मा, अपर जिलाधिकारी नगर शैलेंद्र कुमार सिंह, अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व यशवर्धन श्रीवास्तव तथा अन्य संबंधित अधिकारीगण भी उपस्थित रहे।


Comments