राष्ट्रपिता महात्मा गांधी जी के बलिदान दिवस के अवसर पर शुरू की गई नई योजना

राष्ट्रपिता महात्मा गांधी जी के बलिदान दिवस के अवसर पर शुरू की गई नई योजना के संबंध में जिलाधिकारी अजय शंकर पांडेय का अविरल प्रयास


कलेक्ट्रेट के सभागार में जिलाधिकारी अजय शंकर पांडेय के द्वारा समस्त लेखपालों को नई योजना संबंधी डायरी कराई उपलब्ध


एक वर्ष तक समस्त लेखपाल अपने शासकीय दैनिक कार्यों में सबसे अच्छे कार्य का डायरी में प्रत्येक दिन करेंगे अंकन



गाज़ियाबाद। राष्ट्रपिता महात्मा गांधी जी की 150वीं वर्षगांठ को समाज के लिए सार्थक बनाने के उद्देश्य से जिलाधिकारी अजय शंकर पांडेय के द्वारा एक नई पहल जनपद में  उनके बलिदान दिवस 30 जनवरी 2020 को शुरू की गई थी। इसी कड़ी में आज जिलाधिकारी अजय शंकर पांडेय द्वारा समस्त लेखपालों को बापू के आदर्शों को अपनी कार्यशैली में अपनाकर कार्य करने की प्रेरणा दी गई है। जिलाधिकारी अजय शंकर पांडेय ने आज  कलेक्ट्रेट सभागार में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी पर आधारित इस योजना के बारे में जानकारी देते हुए कहां कि सभी लेखपालों को एक डायरी दी गयी है, जिस डायरी पर लिखा है 'बापू के लिए'।


डायरी देने का उद्देश्य सभी को बताया गया है कि रोजाना अपने  शासकीय  निष्पादित अच्छे/ उत्कृष्ट/सर्वोत्तम कार्यों में से किसी एक कार्य को प्रतिदिन डायरी के पेज पर लिखेंगे। इसके साथ ही महीने के आखिर में सभी लेखपालों से उनके द्वारा किए गए अच्छे कार्यों की लिस्ट मांगी जाएगी और जिन लेखपालों ने सबसे ज्यादा अच्छे कार्य किए होंगे उन कार्य में से 30 अच्छे/उत्कृष्ट/सर्वोत्तम कार्यों को एक पत्रिका में प्रकाशित किया जाएगा तथा उस पत्रिका का नाम भी 'बापू के लिए पत्रिका' रखा गया है।


इस अवसर पर जिलाधिकारी ने कहा कि लेखपाल जनता से सीधे जुड़े होते हैं। अतः उनसे विशेष अपेक्षा रखी जाती है कि वह पूरी पारदर्शिता के साथ कार्य करते हुए अपनी छवि सुधारें और बापू के मूल्यों, चरित्र, संदेश एवं बलिदान को याद रखकर निष्पक्षता से अपने दैनिक शासकीय कार्य करें।


Comments