समस्त सरकारी अधिकारियों, कर्मचारियों की कार्यशैली में बापू के आदर्शों पर कार्य करने के लिए "बापू के लिए" नाम से नई योजना की शुरुआत

राष्ट्रपिता महात्मा गांधी जी के बलिदान दिवस पर जिलाधिकारी अजय शंकर पांडेय का अविरल प्रयास


कलेक्ट्रेट की सभागार में जिलाधिकारी अजय शंकर पांडेय के द्वारा समस्त जिला स्तरीय अधिकारियों को नई योजना संबंधी डायरी कराई गई उपलब्ध


एक वर्ष तक समस्त अधिकारी, कर्मचारी गण अपने शासकीय दैनिक कार्यों में सबसे अच्छे कार्य का डायरी में प्रत्येक दिन करेंगे अंकन


महात्मा गांधी जी की 150वीं वर्षगांठ को समाज के लिए सार्थक बनाने के लिए डीएम की एक नई पहल, समस्त अधिकारियों कर्मचारियों से सहयोग की, की गई अपेक्षा



राष्ट्रपिता महात्मा गांधी जी की 150वीं वर्षगांठ को समाज के लिए सार्थक बनाने के उद्देश्य से जिलाधिकारी अजय शंकर पांडेय के द्वारा एक नई पहल जनपद में आज शुरू की गई है, जिसमें समस्त अधिकारियों एवं कर्मचारियों के द्वारा 1 वर्ष तक बापू के आदर्शों को अपनी कार्यशैली में अपनाकर कार्य करने की प्रेरणा दी गई है। जिलाधिकारी अजय शंकर पांडेय द्वारा आज  कलेक्ट्रेट सभागार में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी  पर आधारित  नई योजना का शुभारंभ किया गया।


इस अवसर पर उन्होंने बताया कि इस योजना का उद्देश्य है कि सभी अधिकारियों/ कर्मचारियों को अच्छे कार्य करने के लिए जागरूक करना है, साथ ही महात्मा गांधी के पद चिन्हों पर चलना है। उन्होंने बताया कि 30 जनवरी को राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के बलिदान दिवस के रूप में मनाया जाता है। राष्ट्रपिता के देश भक्ति और बलिदान को याद रखने के उद्देश्य से आज के दिन एक नई योजना शुरू की जा रही है जिसका नाम रखा गया है 'बापू के लिए'।


जिलाधिकारी ने बताया कि योजना अंतर्गत सभी प्रशासनिक अधिकारियों को एक डायरी दी गयी है, जिस डायरी पर लिखा है 'बापू के लिए'। डायरी देने का उद्देश्य सभी अधिकारियों को बताया गया है कि अधिकारी/ कर्मचारी द्वारा रोजाना अपने  शासकीय  निष्पादित अच्छे/ उत्कृष्ट/सर्वोत्तम कार्यों में से किसी एक कार्य को प्रतिदिन डायरी के पेज पर लिखेंगे। इसके साथ ही महीने के आखिर में सभी अधिकारियों से उनके द्वारा किए गए अच्छे कार्यों की लिस्ट मांगी जाएगी और जिन अधिकारियों ने सबसे ज्यादा अच्छे कार्य किए होंगे उन कार्य में से 30 अच्छे/उत्कृष्ट/सर्वोत्तम कार्यों को एक पत्रिका में प्रकाशित किया जाएगा तथा उस पत्रिका का नाम भी 'बापू के लिए पत्रिका' रखा गया है।


जिलाधिकारी ने इस महत्वपूर्ण योजना का शुभारंभ आज कलेक्ट्रेट के सभी सभागार में बलिदान दिवस के अवसर पर किया गया। उन्होंने समस्त जिला स्तरीय अधिकारियों का आह्वान किया है कि सभी अधिकारी गण अपने अधिनस्थ अधिकारियों एवं कर्मचारियों को भी इसी प्रकार एक डायरी उपलब्ध कराएंगे और उनके द्वारा किए जा रहे दैनिक शासकीय कार्यों में जो सबसे अच्छा कार्य किया जाए उसका संबंधित डायरी में अंकन किया जाए।


जिलाधिकारी अजय शंकर पांडेय ने इस अवसर पर समस्त अधिकारियों का आह्वान किया कि इस महत्वपूर्ण योजना का शुभारंभ करने का मुख्य उद्देश्य यही है कि महात्मा गांधी जी की 150वीं वर्षगांठ को समाज के लिए सार्थक बनाया जा सके और जिला प्रशासन गाजियाबाद की ओर से महात्मा गांधी जी की 150वीं वर्षगांठ पर एक सच्ची श्रद्धांजलि प्रदान की जा सके।


Comments