गिरफ्तार किए गए लोगों को लेकर दिखी पुलिस की बड़ी लापरवाही, सेल्फ डिस्टेंसिंग का नहीं रखा ध्यान
पशुओं की अवैध कटाई करने वाले 10 अभियुक्त गिरफ्तार

 

कब्जे से 60 किलो भैंस का मांस व संबंधित औजार बरामद

 


 

मुरादनगर। 10 लोग 60 किलो भैंस का मांस कर्फ्यू का उल्लंघन में पुलिस ने 10 लोगों को गिरफ्तार किया है। इनकी गिरफ्तारी का कारण है सरकारी दिशानिर्देशों को ना मानना और पुलिस ने भी लापरवाही करने में कोई कसर नहीं छोड़ी। गिरफ्तार किए गए लोगों को रखने में सेल्फ डिस्टेंसिंग का ध्यान नहीं रखा गया। फोटो में साफ दिख रहा है कि पुलिस ने किस तरह से आरोपियों को एक ही स्थान पर रस्सी से जकड़ा हुआ है। 1 फुट तो दूर इंचो का भी फासला लोगों के बीच नहीं है और सभी पुलिस अभिरक्षा में हैं। पशुओं का अवैध कटान करने वाले 10 अभियुक्त गिरफ्तार कब्जे से 60 किलोग्राम भैंस का मांस व इलेक्ट्रॉनिक कांटा बरामद हुआ।


कोरोनावायरस के संक्रमण को फैलने से रोकने को दृष्टिगत रखते हुए जिलाधिकारी गाजियाबाद द्वारा धारा 144 सीआरपीसी लागू करते हुए जनपद के सभी मीट की दुकानों को बंदी का आदेश दिया गया है। बंदी आदेश के दौरान शनिवार को क्षेत्र में भ्रमण के दौरान पुलिस को मुखबिर द्वारा सूचना मिली कि मुहल्ला कुरैशीयान में मीट मार्केट के पीछे कुछ लोग मिलकर भैंस काटकर उसके मांस को बेच रहे हैं। इस सूचना पर सुबह करीब 9:00 बजे शनिवार को रहमत अली पुत्र शब्बीर, रहीम पुत्र शहीद, अहमद पुत्र बुंदू, जाकिर पुत्र मुन्ना, गफ्फार पुत्र रशीद, आसिफ पुत्र असलम, अकील पुत्र नूर इलाही, वाहिद पुत्र अब्दुल खालिद, अब्बास पुत्र मेहर इलाही, ताजिम पुत्र इकबाल अहमद को थाना मुरादनगर ने 60 किलोग्राम भैंस का मांस पशु के अवशेष लोहे का, पशु काटने का औजार व इलेक्ट्रॉनिक कांटा के साथ गिरफ्तार किया।

इसके संबंध में थाना मुरादनगर पर दिनेश कुमार शर्मा ने कई धाराओं में मुकदमा पंजीकृत जेल भेजा गया है। पूछताछ पर अभियुक्तों ने बताया कि लाॅक डाउन की वजह से मांस की बिक्री पर रोक लगी है तथा इस समय लोग मांस को महंगे दामों पर भी खरीद रहे हैं। इसी कारण हमने रशीद पुत्र बाबू, सगीर पुत्र बाबू, आबिद राशिद पुत्र गण रशीद, अजमल, शाहिद के साथ मिलकर एक भैंस को काटा था। उसी भैंस के मांस को यहां बेच रहे थे। हम लोग लॉक डाउनलोड में मांस को ऊंचे दामों पर लोगों को बेचकर अच्छा मुनाफा कमा लेते हैं। पुलिस इन लोगों को गिरफ्तार करने में यह भी भूल गई कि माहौल कोरोना का है और सेल्फ डिस्टेंसिंग आवश्यक होती है। लेकिन यहां पुलिस ने गिरफ्तार सभी लोगों को एक ही रस्सी से बांधकर एक जगह खड़ा कर दिया। ऐसे में यदि कोई किसी रोग से प्रभावित हो तो उससे दूसरे को रोग लग सकता है।


Comments