रमज़ान में ज़रूरतमंद व्यक्ति की मदद से मिलता है बहुत बड़ा पुन्य

रमज़ान में ज़रूरतमंद व्यक्ति की मदद से मिलता है बहुत बड़ा पुन्य



दीपक गुप्ता, संस्थापक व अध्यक्ष युवा जल संरक्षण समिति


मुरादनगर। वो चाय की दुकान जिस पर अक्सर हम लोग जल संरक्षण अभियान के पश्चात चाय की चुस्कियां भरा करते थे, आजकल बंद रहती है। हम जब जब उस रास्ते से जरूरतमंद लोगों को राहत सामग्री पहुंचाने का काम करते तो अक्सर यह ख्याल आता था कि दुकान तो बंद है तो फिर यह परिवार खर्चा कैसे चला रहा होगा। न तो संपर्क सूत्र ही था और ना ही घर के ठिकाने का पता। पर कहते हैं ना जहां चाह वहां राह। थोड़ी सी कोशिश करने पर संपर्क सूत्र मिल ही गया, संदेह भी बिल्कुल ठीक था।


दुकान भी बंद, शहर में लोकडाउन और ऊपर से रमजान थे। वह अंकल सच में बहुत परेशान थे। समिति की ओर से मदद की पेशकश पर भी सहमति ना थी, शायद उनकी खुद्दारी इस बात की इजाजत नहीं दे रही थी। बहुत आग्रह करने पर आखिर हमने उन्हें मना ही लिया।


एक महीने का राशन और कुछ धनराशि देकर मुसीबत के इस समय में उन्हें अपने होने का एहसास कराया। न जाने ऐसे कितने ही लोगों की आंखें मुसीबत के इस समय में किसी अपने की तलाश कर रही होंगी। अपने आसपास ऐसे लोगों का ख्याल रखिए, इस वक्त यही हमारा सर्वश्रेष्ठ कर्तव्य है और यही हमारा धर्म है।


Comments