मानव सेवा समिति ने आपसी सांप्रदायिक सौहार्द को दिया बढ़ावा

मानव सेवा समिति ने आपसी सांप्रदायिक सौहार्द को दिया बढ़ावा

 


 


मुरादनगर। कोरोना के कारण देश में लगे लॉक के बीच विभिन्न क्षेत्रों में फसे मजदूरों को तीनों समय निशुल्क भोजन उपलब्ध करा रही मानव सेवा समिति ने इस आपातकाल में भी आपसी सौहार्द बनाने का प्रयास किया। लॉक डाउन के बीच भी संस्था के सदस्यों ने क्षेत्र के आपसी सांप्रदायिक सौहार्द को बढ़ावा देने की कोशिश की। 

समिति के सदस्य शाम को जरूरतमंद लोगों का भोजन लेकर निकले थे। उसी दौरान मुस्लिमों के रोजे खोलने का समय हो गया कुछ मुस्लिम समाजसेवी टीम के साथ थे। कुछ राहगीरों के रूप में दिखलाई दिए। समिति ने त्वरित निर्णय करते हुए रोजा इफ्तारी का कार्यक्रम कर दिया। जिसमें सभी आवश्यक दिशानिर्देशों का पालन करते हुए सभी लोगों ने मिलकर रोजा इफ्तार किया। इस बारे में आयोजकों का भी यही कहना है कि आवश्यक सावधानियों को रखकर सभी कार्य किए जा सकते हैं। किसी भी भय के कारण आपसी भाईचारा और सौहार्द नहीं छोड़ा जा सकता। फासला, सावधानी आवश्यक है। उसके साथ ही सामाजिक सद्भाव जो मुरादनगर क्षेत्र की पहचान है,, वह भी बना रहे वह भी हम ही लोगों का कर्तव्य है।

समिति बिना किसी राजनीतिक दल या संगठन से कोई मदद नहीं ले रही है। समिति के सभी सदस्य मित्र आपस में मिलकर इस पुनीत कार्य को कर रहे हैं। इस समिति में कांग्रेस, भारतीय जनता पार्टी, समाजवादी पार्टी अन्य पार्टियों के नेता भी व्यक्तिगत रूप से जुड़े हुए हैं और हर संभव मदद कर रहे हैं लेकिन समिति किसी भी राजनीतिक पार्टी से वास्ता न रख समाजसेवियों के सहारे अपने कार्य को बखूबी अंजाम दे रहे हैं। इस मौके पर पूर्व सभासद सोनू त्यागी, सभासद दिनेश कुमार, कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अलीमुद्दीन कस्सार, वरिष्ठ विजेंद्र चौधरी, भोलू, टोनी, सतीश आदि लोग मौजूद रहे। इस मौके पर क्षेत्र में स्थिति का आँकलन करने पहुंचे पत्रकारों को भी समिति  ने सम्मानित किया।


Comments

Popular posts from this blog

अमेज़ॉन में हुआ काइट के 13 छात्रों का प्लेसमेंट, प्रत्येक छात्र को मिला 44.14 लाख का पैकेज

चेयरमैन सईउल्लाह खान ने कहा था न खाऊंगा न खाने दूंगा

कानूनी जागरूकता शिविर में छात्र छात्राओं ने दी कानून की जानकारी ग्रामीणों को जानकारी