ऑनलाइन दुख दर्द दूर कर रहे हैं योगी उमेश 

ऑनलाइन दुख दर्द दूर कर रहे हैं योगी उमेश 



मुरादनगर। पहले लोगों को सामने बैठा कर उनकी समस्याओं का समाधान करते आ रहे पंडित उमेश योगी महामारी के बीच लोगों का भक्ती व शक्ति से ऑनलाइन साक्षात्कार करा लोगों की समस्याओं का निराकरण कर रहे हैं। योगी काफी लंबे समय से मां काली की आराधना करते चले आ रहे हैं और लोगों के दुख दर्द सुनकर उन्हें दूर करने का भी भरकर प्रयत्न करते रहे हैं। उनके यहां अपनी समस्याओं के प्रश्न लेकर बड़ी संख्या में लोग रोज पहुंचते थे। सरकार द्वारा कोरोना को लेकर घोषित किए गए आपातकाल में भी वहां आने वालों का तांता लगा हुआ था। द्वार पर पहुंचे लोगों को वापस लौटा देना उन्हें उचित नहीं लगा और सावधानी के कारण अब उन्होंने इस समस्या का समाधान भी ढूंढ लिया है जो लोग अपनी समस्या लेकर खुद नहीं पहुंच पा रहे हैं, उन्हें योगी भी घर रहने की सलाह देते हुए टेलीफोन व्हाट्सएप मेल आदि से अपनी समस्याएं बताने को कहा। लॉक डाउन में जहां सभी अपना समय पास करने के लिए परेशान हैं वहीं इस बीमारी के चलते अब उन्हें यथा समय ऑनलाइन रहना पड़ रहा है। जिससे वह लोगों की समस्या सुन सकें और उनका निराकरण भी करा सकें। जहां प्रतिदिन बड़ी संख्या में लोग पहुंचते थे अब वह कॉलोनी सुनसान नजर आती है लेकिन उमेश योगी पूरे समय लोगों की समस्याओं के निराकरण में जुटे हुए दिखलाई पड़ते हैं।


उमेश का कहना है कि आज के समय में हर किसी के पास कोई ना कोई समस्या पीड़ा है जिसे लोग किसी विश्वस्त के साथ बांटना चाहते हैं और समाधान में सहयोग भी जो उन्हें यहां मिलता है लोगों की श्रद्धा है कि देवी माता दिल से लगाई गई पुकार को जरूर सुनती है और लोगों के दुख दर्द दूर हो जाते हैं। उन्होंने  कहा कि सभी आवश्यक वस्तुओं की आवश्यकता के साथ ही मनुष्य को मां शक्ति की आराधना भी उतनी ही जरूरी है। इसलिए सावधानी के तौर पर लॉक डाउन के समय तक वह ऑनलाइन भी लोगों की सेवा को तत्पर रहते हैं। योगी का मानना है कि शक्ति को श्रद्धा के साथ व्यक्ति जहां जिस अवस्था में स्मरण करता है वह उसके लिए हमेशा मां के रूप में ही कार्य करती हैं। योगी का मानना है कि समय के साथ ही प्रलय कारी महामारी समाप्त हो जाएगी। भक्त भगवान के बीच से फिर दरवाजों की दीवार हटेगी आवश्यकता है थोड़ी सावधानी सब्र और श्रद्धा। 


Comments