संपत्ति को लेकर फिर रिश्ते हुए खूनी, मां व दो बेटियों की हत्या मुरादनगर।
संपत्ति को लेकर फिर रिश्ते हुए खूनी, मां व दो बेटियों की हत्या

 


तिहरे हत्याकांड में एक आरोपी गिरफ्तार

 

मुरादनगर।  तिहरे हत्याकांड जिसमें दो मासूम बेटियों और मां को मौत की नींद सुला दिया गया, प्रथम दृष्टा मामले को संपत्ति विवाद से जुड़ा बताया जा रहा है और मृत्यु के कारणों को लेकर भी विरोधाभासी जानकारी मिल रही है। मामले की गंभीरता को देखते हुए जिले के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक कलानिधि नैथानी तथा अन्य अधीनस्थ ने घटनास्थल का निरीक्षण कर पूरे मामले की बारीकी से छानबीन की तथा हत्या के अन्य संभावित कारणों पर भी प्रकाश डालने की कोशिश की। मां तथा दो मासूम बेटियों की हत्या के बाद पूरे क्षेत्र में सनसनी का माहौल है। मृतकों के परिवार में कोहराम मचा हुआ है।

थाना क्षेत्र के पाइप लाइन मार्ग पर गांव बहादरपुर में दो बेटियों सहित मां को फांसी लगा व जहरीला पदार्थ देकर हत्या कर दिए जाने का सनसनीखेज मामला सामने आया है। जिसने भूमि विवाद को थाना क्षेत्र के नबीपुर में वर्षों पूर्व 7 लोगों के जनसंहार की भयावह याद लोगों को दोबारा करा गई है। अपनों की जान लेने वाला कोई और नहीं बल्कि अपने ही बताए जा रहे हैं। पुलिस का कहना है कि मृतक पक्ष की ओर से दी गई शिकायत में संपत्ति विवाद को लेकर महिला व उसकी बेटियों की हत्या की आशंका व्यक्त की गई है। बाकी पुलिस अन्य दृष्टिकोण से भी पूरे मामले की जांच कर रही है। मृतक महिला के पति ने भाभी व भतीजे भतीजी के खिलाफ  प्राथमिकी दी है। 

थाना क्षेत्र के पाइप लाइन मार्ग पर गांव बहादरपुर निवासी रामेश्वर अपनी पत्नी एक बेटे दो बेटियों आशा, परी व अनन्या के साथ परिवार सहित रहता है। उसने गांव में ही  किराने की दुकान की हुई है। घटना से पहले वह अपने पुत्र के साथ दुकान पर चला गया था। रात को घर पहुंचने पर के पत्नी दो बेटियां मृत मिली। तीनों के मुंह में कुछ जहरीला पदार्थ भी दिखलाई दिया। जिसके कारण विष देकर तीनों की हत्या की आशंका व्यक्त की गई है। इस खबर ने ही पूरे गांव में हड़कंप मचा दिया। इसकी सूचना पुलिस को दी गई। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर जांच पड़ताल शुरू की। मौके पर पहुंची पुलिस ने मृतक महिला और दोनों बच्चियों के शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा। ग्रामीणों का कहना है कि वसीयत में मिली एक भूमि के टुकड़े को लेकर दोनों पक्षों में काफी दिनों से वाद विवाद चला रहा था। दोनों ही ओर से थाने में भी एक दूसरे के खिलाफ कई बार शिकायतें दर्ज कराई थी। यहां तक कि आरोपियों की हरकतों से नाराज होकर रामेश्वर का भाई अपने परिवार से अलग होकर गांव में रह रहा है।

इस मामले में पुलिस ने पूछताछ के लिए कुछ लोगों को हिरासत में लिया है। यह भी बताया जा रहा है कि दोनों बहनों वह मां के पहले गला दबाकर हत्या की गई। उसके बाद तिहरे हत्याकांड को आत्महत्या दर्शाने का भी प्रयास किया गया। इस बारे में रामेश्वर ने थाने में प्राथमिक शिकायत दर्ज कराई है कि उसकी पत्नी आशा बेटी परी 3 वर्ष और बेटी अनन्या 5 वर्ष को जहरीला पदार्थ देकर उनकी हत्या की गई है। मृतक महिला के पति का आरोप है कि उसकी पत्नी और बच्चों को संपत्ति के लालच में भतीजे ने अपनी मां बहन के साथ मिलकर हत्या को अंजाम दिया है। रामेश्वर ने तीनों के खिलाफ हत्या की रिपोर्ट दर्ज कराई है। जमीन को लेकर अपनों की दुश्मनी का यह मामला पहला नहीं है। इससे पहले गांव नबीपुर में एक परिवार के 7 लोगों की दिल दहलाने वाले तरीके से हत्या कर दी गई थी। उस मामले में पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए आरोपियों को जेल भेज दिया था। इस हत्याकांड ने लोगों को झकझोर कर रख दिया है। हर कोई सच्चाई जानना चाहता है कि क्या एक जमीन के टुकड़े के लिए कोई इस तरह से अपनों की हत्या कर सकता है। थाना पुलिस सूत्रों ने बताया कि पुलिस प्राथमिक शिकायत के आधार पर पूछताछ व जांच की जा रही है। मौतों का स्पष्ट कारण पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद ही पता चल सकेगा। पुलिस नामजद किए गए आरोपियों की तलाश में भी ताबड़तोड़ छापामार कार्रवाई कर रही है। थाना प्रभारी का कहना है प्रथम सूचना के आधार पर मामले को पंजीकृत कर विवेचना की जा रही है।

Comments