सरकार द्वारा सहायता के रुपए आने के संदेश पर बैंक में भीड़ खातों में नहीं पहुंचे पैसे

सरकार द्वारा सहायता के रुपए आने के संदेश पर बैंक में भीड़ खातों में नहीं पहुंचे पैसे


 


मुरादनगर। सरकार द्वारा मिलने वाली सहायता राशि के रुपए लोगों के खातों में जमा होने के मोबाइल पर आए हुए संदेशों के कारण लोगों की बैंकों पर भीड़ बढ़ रही है। जब खाताधारक बैंक में पहुंच रुपए निकालने की कोशिश करता है तो उसे जवाब मिलता है कि उसके खाते में सरकार से मदद के रूप में कोई रुपया नहीं आया है। गंगा विहार निवासी डालचंद ने बताया की उसका एक बैंक की शाखा में खाता है। उसके मोबाइल पर संदेश आया था कि उसके खाते में प्रधानमंत्री द्वारा घोषित एक योजना के अंतर्गत ₹500 जमा किए गए हैं। मोबाइल पर संदेश देख वह रुपए निकालने बैंक पहुंच गया। घंटों लाइन में लगे रहने के बाद उसे बताया गया कि मैसेज में बताई हुई किसी योजना का कोई पैसा उसके खाते में नहीं आया है। 


ऐसी स्थिति अकेले एक ही व्यक्ति की नहीं है। बड़ी संख्या में बैंकों की लाइन में मोबाइल पर रुपए आने के संदेश देखकर लोग रुपए निकालने पहुंच रहे हैं। लेकिन बैंक से जवाब मिल रहा है कि उनके खाते में कोई पैसा कहीं से नहीं आया है। इस बारे में बैंक से जुड़े लोगों का कहना है कि मोबाइल पर संदेश आने का मतलब यह नहीं है कि उसके खाते में रुपया जमा हो गया है। कई बार टेलीकॉम कंपनियों की वजह से भी किसी का मैसेज दूसरे को भी पहुंच जाता है। लॉक डाउन के कारण लोग आर्थिक रूप से परेशान हैं। ऐसे में जिसे खाते में रुपए जमा होने का संदेश मिल रहा है वह बैंकों की लाइनों में घंटों खड़े हो रहे हैं। लेकिन रुपयों की जगह जवाब मिलता है कि फर्जी मैसेज है। 


 


Comments