सरकारी वसूली स्थगित हो - देवेंद्र पायल
सरकारी वसूली स्थगित हो - देवेंद्र पायल

 


 

मुरादनगर। कोरोना महामारी देश में अघोषित आपातकाल बीमारी के फैलने के रोकने के लिए सरकार द्वारा लॉक डाउन किया गया है। लोग घरों में बैठने को विवश हैं। ऐसे में खाने तक के सामान लोगों के पास समाप्त हो गए हैं। आने जाने के सभी रास्ते बंद हैं। सामाजिक संस्थाएं लोगों के खाने पीने की व्यवस्था कर रही हैं। लेकिन स्कूल संचालक बच्चों की फीस  बैंक की मासिक किस्त किराए पर रहने वालों के मकान मालिक बिजली आदि के भुगतान लोग करने की स्थिति में नहीं है। लेकिन फिर भी स्कूल बैंक व अन्य विभाग लोगों पर अभी भी देनदारी का दबाव बना रहे हैं। ऐसे समय में सरकार भी लोगों को राहत देने के लिए वसूली न करने का आश्वासन दे चुकी है। लेकिन फिर भी लोगों को वसूली के लिए परेशान किया जा रहा है। मानव सेवा समिति के स्वयंसेवक देवेंद्र पायल ने इस बारे में जिला अधिकारी को पत्र लिखकर लॉक डाउन के समय सभी वसूली स्थगित किए जाने की मांग की है। पायल ने कहा कि स्वयंसेवी संस्थाएं लोगों को किसी तरह से भोजन उपलब्ध करा रही हैं। सरकारी विभाग ऐसे में भी बकाया भुगतानों के लिए दबाव बना रहे हैं। पायल ने बताया कि हमारी संस्था प्रतिदिन सैकड़ों परिवारों को निशुल्क भोजन उपलब्ध करा रही है। वहीं लोगों के इस समय जीवन का सहारा है। ऐसे समय में बकाया वसूली के लिए किसी को परेशान किया जाना ठीक नहीं है। पत्र की प्रतिलिपि जिलाधिकारी व अन्य शासकीय उच्चाधिकारियों को भेजी गई हैं।

Comments