ज्ञानेंद्र सिंघल ने किया पौधारोपण 

ज्ञानेंद्र सिंघल ने किया पौधारोपण 



मुरादनगर। वृक्ष धरा का भूषण, करते दूर प्रदूषण, वृक्ष ही व्यक्ति के स्वस्थ जीवन का महत्वपूर्ण आधार है। आमजन को यह संदेश देने के लिए पश्चिम उत्तर प्रदेश संयुक्त व्यापार मंडल गाजियाबाद के जिलाध्यक्ष ज्ञानेंद्र सिंघल ने अपना 47 वां जन्मदिन पौधारोपण करके मनाया ।


असालतनगर जलालपुर मार्ग पर स्थित बाबा मोहन राम मंदिर परिसर के आंगन में अपने व्यापारी साथियों के साथ सिंघल ने जामुन बेलपत्र पीपल आदि के पौधे लगाकर अपना जन्मदिन मनाया। सिंघल ने जारी प्रेस विज्ञप्ति में कहा कि जन्म से लेकर मृत्यु तक इंसान के जीवन में वृक्ष का योगदान सबसे महत्वपूर्ण होता है। पेड़ हमारे जीवन के सच्चे साथी हैं। यह हमें जीवन जीने के लिए कार्बन डाइऑक्साइड को अवशोषित करके प्राणवायु ऑक्सीजन उपलब्ध कराते हैं। अगर पेड़ नहीं होते तो पृथ्वी पर जीवन संभव नहीं होता लेकिन अजीब विडंबना है जो पेड़ हमें जीवन दे रहे हैं। हम अपने स्वार्थ के कारण उन्हीं को नष्ट करने पर तुले हुए हैं। अगर हमें पृथ्वी को बचाए रखना है तो अधिक से अधिक मात्रा में पेड़ लगाने होंगे। 


सिंघल ने कहा पौधा लगाना बहुत आसान है लेकिन उसे बच्चे की तरह पालना पोषण करना थोड़ा कठिन। हमें लगाए गए पौधे को वृक्ष बनाने के लिए ध्यान रखना चाहिए। उसकी देखभाल समय-समय पर पानी, खाद्य आदि देकर करनी चाहिए। वहीं वृक्ष हमें जीवन से मृत्यु तक अनमोल ऑक्सीजन उपहार में देता है और अंतिम समय यानी मृत्यु के पश्चात भी उसी वृक्ष की लकड़ी व्यक्ति के नश्वर शरीर को मुक्ति प्रदान करती है। प्रत्येक व्यक्ति को अपने जीवन काल में समय-समय पर कम से कम 10 पौधे लगाकर उन्हें वृक्ष बनाने के लिए उनका पालन पोषण करना चाहिए। पौधारोपण कार्यक्रम में मुराद नगर व्यापार मंडल नगर अध्यक्ष मोहित गर्ग, भाजपा नगर अध्यक्ष नितिन गोयल, संजीव त्यागी, जिला महामंत्री व्यापार मंडल संजय त्यागी, आकाश अग्रवाल, अमरीश गोयल अलंकार, दीपक गोयल, सुशील गोस्वामी, अंकित गर्ग पत्रकार, निखिल मित्तल, विनय कंसल, संदीप कंसल चक्की वाले आदि मौजूद रहे। 


Comments

Popular posts from this blog

अमेज़ॉन में हुआ काइट के 13 छात्रों का प्लेसमेंट, प्रत्येक छात्र को मिला 44.14 लाख का पैकेज

चेयरमैन सईउल्लाह खान ने कहा था न खाऊंगा न खाने दूंगा

कानूनी जागरूकता शिविर में छात्र छात्राओं ने दी कानून की जानकारी ग्रामीणों को जानकारी