राशन डीलर कर रहे है राशन देने में धांधली 

राशन डीलर कर रहे है राशन देने में धांधली 


 


मुरादनगर। सरकार कोरोना लॉकडाउन के दौरान हर जरूरतमंद को राशन उपलब्ध कराने के लिए सरकार अनेक प्रयत्न कर रही है लेकिन मुरादनगर क्षेत्र के राशन डीलर ऐसे समय में भी सरकारी सहायता को खुद ही हजम करने के प्रयास में लगे हुए हैं। अधिकांश राशन डीलर अपने मन मुताबिक टाइम से दुकान खोलते हैं और अपनी मर्जी से बंद करते हैं। बहुत से राशन कार्ड धारकों को यह भी पता नहीं चल पाता कि उनकी एजेंसी पर कब राशन आया और कब कट गया। 


लोगों का कहना है कि सरकार ने 5 किलोग्राम गेहूं निर्धारित किया हुआ है। उसमें चार और किसी को तीन ही किलो दिया जा रहा है। इतना ही नहीं लोगों को उपलब्ध कराने के लिए सरकार से मिले चने दाल इनको तो डीलर किसी की नजर भी नहीं लगने देते। राशन डीलरों का व्यवहार भी ऐसा हिटलर शाही होता है कि जैसे राशन कार्ड धारक उसके लिए कोई मायने नहीं रखता। आए दिन राशन डीलरों की दुकानों पर होने वाले विवाद भी किसी से छिपे नहीं है। इस बारे में मुरादनगर के आपूर्ति निरीक्षक सत्य प्रकाश मालवीय का कहना है कि हम हर कार्ड धारक को सरकार से मिला राशन उपलब्ध कराने के लिए हर संभव प्रयास कर रहे हैं और यदि ऐसी कहीं शिकायत आती है तो उचित कार्रवाई की जाएगी।


Comments