कोरोना रोकथाम व देश की खुशहाली समृद्धि के लिए मां पूजन

कोरोना रोकथाम व देश की खुशहाली समृद्धि के लिए मां पूजन


 



मुरादनगर। नवरात्र पर कोरोना संक्रमण के चलते सरकार द्वारा जारी दिशा-निर्देशों का पालन करते हुए खुले में पंडाल नहीं लगाए जा रहे हैं। सभी धर्मप्रेमी अपने-अपने घरों में नवदुर्गे की पूजा करेंगे। माँ के नौ स्वरूपों में से प्रथम शैलपुत्री की पूजा-अर्चना सपरिवार विधिविधान से अ. भा. परशुराम सेवा दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष पं विनोद मिश्रा ने संक्रमण मुक्ति तथा देश की समृद्धि शांति के लिए की। मिश्रा ने बताया कि माता को नौ स्वरूपों के रूप में प्रथम शैलपुत्री, दूसरी ब्रह्मचारिणी, तीसरी चन्द्रघण्टा, चौथी कूष्मांडा, पाँचवी स्कन्द माता, छटी कात्यायनी, सातवीं कालरात्रि देवी, आठवीं देवी महागौरी आदि स्वरूपों में नौ दिनों तक उपवास रख कर पूजा अर्चना की जाती है। यह शरदीय नवरात्रे हैं। इनकी पूजा करने से प्राणिमात्र के सभी दुख संकट दूर होते हैं और घर में धन धनाड्य की वृद्वि होती है और घर परिवार में खुशहाली आती है। 


Comments