पुलिस प्रशासन की सख्त कार्रवाई से बंदी हुई फेल

 

मुरादनगर। किसान संगठनों तथा विपक्ष द्वारा आहूत बंद मुरादनगर में कोई असर नहीं दिखलाई दिया। पुलिस प्रशासन के आला अधिकारी लगातार क्षेत्र के भ्रमण पर रहे। पुलिस प्रशासन की सख्ती भी दिखलाई दी। जाम व बाजार बंद करने के लिए कुछ स्थानों पर विपक्ष के कुछ लोग एकत्र हुए वहां पुलिस बल का प्रयोग कर उन्हें खदेड़ दिया गया। सपा के तमाम नेता एक दिन पहले ही नजरबंद कर लिए गए थे। घोषित बंद के दिन सुबह से ही पुलिस प्रशासन के अधिकारी अन्य विपक्षी दलों के नेताओं कार्यकर्ताओं को तलाश करने लगे जहां भी पुलिस प्रशासन के अधिकारियों को यह अंदेशा हुआ कि कुछ गड़बड़ हो सकती है वहीं आवश्यक कार्यवाही बल प्रयोग भी किया गया।

पुलिस प्रशासन की इतनी सख्ती रही कि बंद कोशिश करने वाले मार्केटो में दुकानों को बंद कराने पहुंचने का साहस नहीं जुटा पाए। कहने के लिए क्षेत्र में सभी विपक्षी दलों के कद्दावर नेता हैं लेकिन प्रशासन की सख्ती के चलते वह भी बंद सफल नहीं बना पाए। बंद को लेकर विपक्ष ने सरकार पर तानाशाही के आरोप लगाए हैं। वहीं भाजपा नेताओं ने बंद को खिलाफ करार देते हुए कहा कि जनता ने झूठ को नकार दिया। दैनिक वीर अर्जुन प्रतिनिधि मुकेश सोनी व मीडिया की टीम भी लगातार क्षेत्र में नजर रखे हुए रही। छोटे मोटे मामलों को छोड़कर बंद पूरी तरह बेअसर रहा। वहीं एडिशनल कमिश्नर रितु माहेश्वरी जिला अधिकारी अजय शंकर पांडे वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक कलानिधि नैथानी ने थाने पर कैंप किया और अन्य उच्चाधिकारी भी क्षेत्र में भ्रमण पर रहे।
Comments