गहने हॉल मार्क कुछ विसंगतियां दूर की जानी आवश्यक - लोकेश सोनी

गहने हॉल मार्क कुछ विसंगतियां दूर की जानी आवश्यक - लोकेश सोनी


मुरादनगर। अभी से 3 महीने तक सर्राफा मार्केट में सोने के बिना हॉल मार्क के जेवर बिकेंगे और 40 लाख रुपए से कम का व्यापार करने वाले ज्वेलर्स बिना हॉल मार्क के जेवर बेच सकेंगे। नया कानून विस्तृत रूप से लागू होने के बाद सरकार ने पहले से तैयार बिना हॉल मार्क के जेवर बेचने की छूट तथा छोटे 40 लाख से कम का टर्नओवर वाले सर्राफा व्यापारियों को हॉल मार्किंग के बिना व्यापार करने की अनुमति होगी। इस बारे में सर्राफा उद्योग व्यापार मंडल के अध्यक्ष लोकेश सोनी ने बताया कि इस कानून में कुछ विसंगतियां हैं। उन्हें दूर किए जाने की आवश्यकता है जिससे व्यापारियों को नियमों पर चलने में कठिनाई न हो। इस कानून से उपभोक्ता को उसके रुपए के बराबर सोना मिलेगा धोखाधड़ी की गुंजाइश समाप्त हो जाएगी। उन्होंने कहा कि बड़े सर्राफा व्यापारी अब से पहले भी हॉल मार्क युक्त ज्वेलरी बेचते थे अब उनकी संख्या में और वृद्धि होगी जिसका सबसे ज्यादा लाभ खरीददार को मिलेगा। कानून में कई बिंदु अभी तक स्पष्ट नहीं है। उन्हें भी 3 महीने में स्पष्टता के लिए सर्राफा व्यापारियों ने सरकार से अनुरोध किया है उन्होंने बताया कि इस कानून से छोटे स्तर पर ज्वेलरी का कार्य करने वाले व्यापारी प्रभावित हो सकते हैं। ग्राहक हॉल मार्क वाले जेवर खरीदने को प्राथमिकता देंगे तो छोटे कारोबारियों का कारोबार प्रभावित हो सकता है।

Comments