गंदगी के ढेर फैला सकते हैं बीमारियां

 गंदगी के ढेर फैला सकते हैं बीमारियां



 मुरादनगर। कोरोना लॉकडाउन अनलॉक हुआ लेकिन यहां सफाई का लग गया लॉकडाउन जगह जगह लगे हैं कूड़े के ढेर सडते गिजबिजाते संक्रामक रोगों के वाहक हो सकते हैं। कोरोना महामारी की लहर कमजोर हुई है लेकिन समाप्त नहीं हुई लापरवाही बीमारी के गुजरे तूफान जिसमें बड़ी संख्या में लोगों की जाने गईं हैं। दोबारा भयानक रूप में आ सकती है नगरीय क्षेत्र में रोग की रोकथाम के लिए सफाई सैनिटाइजेशन जैसी व्यवस्थाएं नगर पालिका परिषद तथा गांवों में ग्राम पंचायत को सौंपी गई हैं। लेकिन यहां नगर पालिका अपने कार्य में विफल नजर आ रही है सैनिटाइजेशन जैसा बताया जा रहा है वह लोगों को पता है कि वैसा हो नहीं रहा सफाई व्यवस्था की पोल सड़कों पर लगे कूड़े के ढेर खोल रहे हैं। नगर के व्यस्ततम रेलवे रोड मार्ग पर कूड़े के ढेर लगे हुए हैं। पालिका द्वारा कूड़ेदान के रूप में ट्राली खड़ी करवाई गई हैं लेकिन कूड़े के ढेर सड़क पर दूर तक फैले हुए हैं उन ढेरों पर कुत्ते जानवर अपनी खुराक ढूंढने के लिए हर समय मौजूद रहते हैं। हालत यह है कि वहां से गुजरने वालों को नाक बंद कर आगे जाना पड़ता है। स्वास्थ्य विभाग कोरोना से बचाव के लिए सफाई सैनिटाइजेशन आदि का सुझाव दे रहा है लेकिन यहां उस पर अमल होता हुआ नहीं दिखलाई देता इसी लापरवाही की वजह से पालिका को पहले नोटिस भी मिल चुका है। लेकिन कार्य में सुधार नहीं हुआ शायद पालिका यथा स्थिति ही कायम रखना चाहती है। इस बारे में आसपास के लोगों ने बताया कि वहां फैली गंदगी के कारण लोग इस और आने से बचकर दूसरे रास्तों से जाना पसंद करते हैं लेकिन यहां के लोग कहां जाएं।

Comments