दिनदहाड़े तलवारधारी बदमाशों ने दिया जानलेवा हमले को अंजाम, बेख़ौफ़ घूमते रहते हैं बदमाश

दिनदहाड़े तलवारधारी बदमाशों ने दिया जानलेवा हमले को अंजाम, बेख़ौफ़ घूमते रहते हैं बदमाश


मुरादनगर। पालिका परिषद वार्ड 16 की सभासद तस्लीम के पति पूर्व सभासद औसाफ खान 62 वर्ष को बदमाशों ने दिनदहाड़े तलवारों से 5 दर्जन से अधिक स्थानों पर वार कर गंभीर रूप घायल कर दिया और हथियार लहराते हुए फरार हो गए। आसपास के लोग भी बचाने के लिए नहीं आए सूचना मिलने पर परिजनों ने उन्हें इलाज के लिए मेरठ के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया है। हमलावर दिनदहाड़े जघन्य वारदात को अंजाम देकर फरार हो गए। सूचना मिलने पर पुलिस मौके पहुंची पुलिस आसपास के क्षेत्र की सीसीसी टीवी फुटेज एकत्र की तथा मोबाइल सर्विलांस के द्वारा भी हमलावरों की तलाश कर रही थी। पुलिस ने दावा किया है कि हमलावर पहचाने गए हैं, शीघ्र ही धर दबोच जाएंगे। क्षेत्र गुंडे बदमाशों के हवाले है बदमाश एक के बाद अनेक वारदातों को अंजाम दे रहे हैं लेकिन पुलिस लोगों को सिर्फ खुलासे के आश्वासन दे रही है। घटनाओं का खुलासा न होने से आमजन में भय का माहौल है।

पठानान मोहल्ला वार्ड नंबर 16 के पूर्व सभासद औसाफ खान पुत्र मनसव खान के पुत्र इमरान ने अज्ञात बदमाशों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई थी कि मेरे पिता 04/09/21 को समय करीब 3:15 शाम को घर से बम्बे की पटरी पर जा रहे थे। जैसे ही पाईप लाईन से रोड पर मेरे पिता की साईकिल पहुंची वही एक मोटर साईकिल पर सवार तीन अज्ञात व्यक्ति आये मेरे पिता की गर्दन पर जान से मारने की नियत से तेज धारदार हथियार से हमला कर दिया। तेजधार हथियार गर्दन पर ना लगकर सोल्डर कंधे के नीचे के लगा जिससे बहुत गम्भीर चोट आई है। वह लहूलुहान होकर वहीं जमीन पर गिर गये। बदमाश जान से मारने की धमकी देते हुए कह कर गए कि अगर अब बच गया तो दोबारा मारेगे। उसके बाद लोगो ने हमे फोन किया मौके पर पहुंचकर अपने पिता को अस्पताल में भर्ती कराया। थाना प्रभारी हरिओम सिंह ने बताया कि पुलिस ने हमलावर बदमाशों की पहचान कर ली है। जल्द ही उन्हें गिरफ्तार कर मामले का खुलासा किया जाएगा।

जांच कर उचित कार्रवाई की जाएगी। ओसाफ खान के पुत्र रालोद नेता असलम खान ने बताया कि उन्हें मेरठ अस्पताल में भर्ती कराया है। डॉक्टरों ने फिलहाल स्थिति नियंत्रण में बताई है। इस बारे में पुलिस अधीक्षक देहात डॉक्टर ईरज राजा ने फोन पर बताया पुलिस को महत्वपूर्ण सुराग हाथ लगे हैं।


Comments