हिजाब मुस्लिम महिलाओं के पहनावे का अभिन्न अंग है - असलम खान

हिजाब मुस्लिम महिलाओं के पहनावे का अभिन्न अंग है - असलम खान


मुरादनगर। हिजाब मुस्लिम महिलाओं के पहनावे का अभिन्न अंग है उसको लेकर राजनीति करना ठीक नहीं है। इस्लाम धर्म कहता है कि औरत को पर्दे में रहना चाहिए। हिजाब अनावश्यक अंग प्रदर्शन से बचाता है। यदि बच्चियां कॉलेज आदि में हिजाब पहनकर जाती हैं, उस पर रोक लगाने की बातें सरकार एक षड्यंत्र के तहत कर रही है। इसका खामियाजा सरकार को भुगतना पड़ेगा। इसलिए उत्तर प्रदेश से विधानसभा चुनावों में जनता भाजपा को सत्ता से बाहर कर गठबंधन को प्रदेश की बागडोर सौंपने जा रही है। यह कहना है राष्ट्रीय लोक दल के वरिष्ठ नेता असलम खान का। असलम ने विशेष भेंट वार्ता में बताया कि वह दो चरणों के चुनावों के दौरान पश्चिमी उत्तर प्रदेश की विभिन्न सीटों के क्षेत्रों में प्रत्याशियों के समर्थन के लिए पहुंचे। पहले चरण में गठबंधन को खूब वोट मिले। दूसरे चरण में उससे भी अधिक वोट रालोद सपा प्रत्याशियों को जनता ने देकर बदलाव का साफ संदेश दे दिया है। 
उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार की नीतियों के कारण लोग इस सरकार से मुक्ति चाहते थे। किसान आंदोलन ने उनमें और जोश भर दिया क्योंकि भाजपा वोट विकास के नाम पर मांगती है लेकिन राजनीति तुष्टीकरण की कर रही है जो इस प्रदेश के मतदाताओं को पसंद नहीं आई। और उन्होंने भाजपा सरकार को उखाड़ फेंकने के लिए गठबंधन प्रत्याशियों को थोक में वोट दिया और बाकी होने वाले और चरणों में भी गठबंधन ही आगे बढ़ेगा। उन्होंने बताया कि गाजियाबाद, मेरठ, मुजफ्फरनगर, सहारनपुर, शामली, बागपत, संभल तथा जिन सीटों पर दो चरणों के चुनाव संपन्न हो चुके हैं वहां से गठबंधन प्रत्याशियों को भारी जनसमर्थन मिला है। बाकी चरणों में वह और ज्यादा बढ़ेगा। रालोद नेता ने कहा कि किसानों को लंबे समय तक आंदोलन के लिए मजबूर करने वाली सरकार से किसान पूरी तरह से खफा हैं। उसी का जवाब मतदाता चुनावों में दे रहे हैं और यदि हिजाब पर सरकार ने और अधिक विवाद किया तो लोकसभा चुनाव में भाजपा की हालत और ज्यादा खराब होगी। किस को क्या पहनना है क्या खाना है यह सरकार को नहीं खुद व्यक्ति को तय करने के अधिकार हैं।

Comments