हरित पट्टी को लेकर किसानों की मांग सही - मुनेश जिंदल

हरित पट्टी को लेकर किसानों की मांग सही - मुनेश जिंदल 


मुरादनगर। ईस्टर्न पेरीफेरल एक्सप्रेसवे के निकट रैपिड रेल के लिए बनाए गए यार्ड के दोनों ओर हरित पट्टी निर्माण की योजना का विरोध शुरू हो गया है। क्षेत्र से संबंधित गांवो के किसानों का कहना है कि इसके बनने से वह बर्बाद हो जाएंगे।
इस विषय में गांव बसंतपुर सैंथली के किसानों ने गाजियाबाद विकास प्राधिकरण उपाध्यक्ष को पत्र भेजकर अपना विरोध दर्ज कराते हुए प्रस्तावित हरित पट्टी के निर्माण का निर्णय वापस लेने की मांग करते हुए कहा है कि गांव की जमीन एनसीआरटीसी रैपिड रेल यार्ड की निर्माण कराने वाली कार्य संस्था को अपनी भूमि जनहित को ध्यान में रखते हुए दी थी। अब उन्हें जानकारी मिली है कि उस क्षेत्र में दोनों तरफ सौ मीटर तक हरित पट्टी का नियम किया जाएगा जिससे किसानों पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ेगा। इस बारे में असालत नगर स्थित जिंदल मार्बल्स के संचालक तथा मानव अधिकार समिति के कोषाध्यक्ष मुनेश जिंदल ने कहा कि सरकार को किसान हित देखते हुए हरित पट्टी के निर्माण को स्थगित कर देना चाहिए। 





Comments

Popular posts from this blog

चेयरमैन सईउल्लाह खान ने कहा था न खाऊंगा न खाने दूंगा

कानूनी जागरूकता शिविर में छात्र छात्राओं ने दी कानून की जानकारी ग्रामीणों को जानकारी

सामिया नाज़ को किया शहर के गणमान्य लोगों ने सम्मानित